भारत में नोटबंदी से पाकिस्तान हुआ दिवालिया,पेट्रोल हुआ 160 रुपए प्रति लीटर, मचा हाहाकार

नई दिल्ली : भारत नोटबंदी के दौर से गुजर रहा है लेकिन पाकिस्तान में इस का खासा असर देखने को मिला पाकिस्तान में पेट्रोल-डीजल के लिए हाहाकार मच है नोटबंदी के विरोध में पेट्रोल पंप वालों ने हड़ताल कर दी है जाहिर सी बात है की नोटबंदी ने पाकिस्तान की कमर तोड़ दी है।

पाकिस्तान के कुछ पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल बिक रहा है वो भी 160 रुपए प्रति लीटर। लाहौर से लेकर इस्लामाबाद तक पेट्रोल के लिए मारामारी हो रही है। हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कई शहरों में पेट्रोल पंप पर बमुश्किल से 24 घंटे का ही ईंधन बचा है।

पाकिस्तान स्टेट ऑयल कंपनी के मुताबिक पाकिस्तान पर निर्यातकों का भारी कर्ज में होने की वजह से तेल ही नहीं आ रहा है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ नई मुसीबत में फंस गए हैं। उनका देश भारी तेल संकट से गुजर रहा है। पंजाब और खैबर पख्तूनवा इलाके में पेट्रोल और डीजल की भारी कमी है लोगों को पिछले छह से सात दिनों से पेट्रोल और डीजल के लिए लंबी लंबी कतारों में लगना पड़ रहा है। यही हालत रही तो जल्द ही पेट्रोल पंप सूख जाएंगे। इस खराब हालत से लोगों का गुस्सा भी सरकार के खिलाफ बढ़ता जा रहा है।

प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने चार आला अफसरों को निलंबित कर दिया है एक आपातकालीन बैठककर पीएम नवाज शरीफ ने इस संकट के जांच के आदेश दिए हैं राजधानी इस्लामाबाद और कराची जैसे शहरों में भी पेट्रोल-डीजल खत्म होता जा रहा है। कई लोगों का आरोप है कि पाकिस्तान सरकार सार्वजनिक तेल कंपनी का निजीकरण करना चाहती है इसलिए जानबूझकर ये संकट खड़ा किया जा रहा है। बहरहाल अगर ये तेल संकट जल्द ही खत्म नहीं हुआ तो नवाज को जनता के बड़े असंतोष का सामना करना पड़ सकता है।